Monday , May 27 2019
Loading...
Breaking News

राजस्थान की कांग्रेस सरकार ने स्कूल की किताबों से हटा दिया नोटबंदी का पाठ

राजस्थान की कांग्रेस सरकार ने स्कूल की किताबों से नोटबंदी का पाठ हटा दिया है। आने वाले एकेडिमिक सेशन के लिए सिलेबस को रिवाइज कर दिया गया है। इंडियन एक्सप्रेस के हवाले से खबर है क् राज्य के शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने कहा है कि नोटबंदी एक असफल प्रयोग था। प्रधानमंत्री ने नोटबंदी के 3 उद्देश्य बताए जिसमें- आतंक का अंत, भ्रष्टाचार का अंत और काला धन वापस लाना शामिल थे। इनमें से कुछ भी नहीं हुआ बल्कि लोगों के लाइन में खड़ा होना पड़ा। इस सब से देश पर 10,000 करोड़ रुपये का बोझ पड़ा।

राज्य की पिछली भाजपा सरकार द्वारा 2017 में कक्षा 12 की राजनीतिक विज्ञान की किताब में विमुद्रीकरण पर अंश प्रस्तुत किया गया था। पाठ्यपुस्तक में केंद्र सरकार के 500 और 1,000 रुपये के नोटों को बंद करने के फैसले को ‘ऐतिहासिक’ और ‘काले धन को साफ करने’ के रूप में दिखाया गया था।

डोटासरा ने यह भी कहा कि जौहर करने वाली महिलाओं का चित्रण कक्षा 8 की अंग्रेजी पाठ्य पुस्तक से हटा दिया गया है। “यह महसूस किया गया कि अंग्रेजी पाठ्यपुस्तक में इस चित्र की कोई आवश्यकता नहीं थी। इसके अलावा, हमें लगा कि यह उचित नहीं है कि आज की महिलाएं ऐसे पाठ्यपुस्तकों को पढ़ती हैं, जो आत्म-हनन करने वाली महिलाओं की तस्वीरें लेती हैं। हम इससे क्या सिखाने की कोशिश कर रहे हैं?

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *