Thursday , December 13 2018
Loading...

राष्ट्र की कई प्रमुख राजनीतिक पार्टियों ने आज कांग्रेस के इस रवैये की निंदा

भारत के देश पिता महात्मा गांधी ने हमेशा सत्याग्रह का नारा दिया  सत्याग्रह का मतलब होता है सत्य के प्रति आग्रह यानी हकीकत के साथ खड़े होना  आज Zee News भी सत्याग्रह कर रहा है  हमारा सत्याग्रह कांग्रेस के विरूद्ध है  यानी हम कांग्रेस से ये आग्रह कर रहे हैं कि वो सत्य को स्वीकार करे  Zee News से माफी मांगे

Loading...

आज कांग्रेस के खिलाफ़ Zee News के सत्याग्रह का दूसरा दिन है कल हमने आपको कांग्रेस पार्टी की रैली में लगे पाक ज़िंदाबाद के नारे का हकीकत दिखाया था  पूरे राष्ट्र के सामने कांग्रेस पार्टी के झूठ को Expose कर दिया था आज अभी इस वक्त तक 24 घंटे बीत चुके हैं लेकिन कांग्रेस ने हमसे माफ़ी नहीं मांगी है शायद उन्हें समझ में नहीं आ रहा होगा कि वो अपने झूठ का बचाव कैसे करें

loading...

कल तक Social Media पर कांग्रेस के नेता  प्रवक्ता, Zee News पर गंभीर आरोप लगा रहे थे  लेकिन अब ये सभी नेता हमारे प्रमाणों को देखने के बाद चुप्पी साध चुके हैं

इस बीच ZEE NEWS ने चुनाव आयोग से कांग्रेस की शिकायत की है

हमने इस पूरे मामले की शिकायत Editors Guild of India में की है

और हमने News Broadcasters Association में इस मामले की शिकायत की है

इसके अतिरिक्त Zee News ने न्यायालय में मानहानि का मुक़दमा करने का विकल्प भी खुला रखा है 

नोट करने वाली बात ये भी है कि इस पूरे मामले में सारा फोकस नवजोत सिंह सिद्धू पर है  जबकि वास्तविक कैप्टन कोई  है कुछ दिन पहले खुद नवजोत सिंह सिद्धू ने बोला था कि वो सिर्फ राहुल गांधी को अपना कैप्टन मानते हैं

ऐसे में ये सवाल उठता है कि क्या कांग्रेस के नेता नवजोत सिंह सिद्धू अपने कैप्टन राहुल गांधी के इशारों पर ही पाक गए थे ? क्या इमरान खान  पाक की भक्ति करने का निर्णय लेने से पहले सिद्धू ने अपने कैप्टन राहुल गांधी से कुछ टिप्स लिए थे?

सिद्धू का पाक जाना, वहां के आर्मी चीफ़ को गले लगाना, वहां के पीएम इमरान ख़ान के साथ मिलकर एक दूसरे की मार्केटिंग करना पाक में मुस्कुराते हुए हिंदुस्तान में सत्ता बदलावकी बातें करना ये सब कुछ इतना सीधा नहीं है जितना दिखाई देता है सिद्धू जिस तरह आगे बढ़कर बैटिंग कर रहे हैं उससे सवाल उठता है कि क्या उन्होंने अपने कैप्टन राहुल गांधी को Confidence में लिया था ?

वैसे पाक को सिद्धू की ये बैटिंग बहुत पसंद आ रही है पाक में कांग्रेस की रैली में लगाए गये नारों को, एक अच्छी खबर की तरह दिखाया जा रहा है पाक को खुश करने वाली इस breaking news को आप एक बार फिर  ध्यान से देखिए

आपने देखा पाक के मीडिया को कांग्रेस पार्टी की पाक ज़िंदाबाद वाली रैली कितनी पसंद आई है ? लेकिन हमारे राष्ट्र में इस रैली की निंदा हो रही है  राष्ट्र की कई प्रमुख राजनीतिक पार्टियों ने आज कांग्रेस के इस रवैये की निंदा की है

इस मामले में हम कांग्रेस के अध्यक्ष राहुल गांधी से भी कुछ बातें कहना चाहते हैं  उनकी पार्टी के नेताओँ  प्रवक्ताओँ ने हकीकत को दबाने का कोशिश किया सवाल ये है कि कांग्रेस पार्टी का अध्यक्ष होने के नाते  क्या उन्हें ये सब कुछ, पहले से पता नहीं था ?

राहुल गांधी, कांग्रेस के अध्यक्ष हैं  ये वही कुर्सी है जिस पर कभी सुभाष चंद्र बोस, पंडित जवाहर लाल नेहरू, सरदार वल्लभ भाई पटेल  मौलाना अबुल कलाम आज़ाद जैसे विशाल व्यक्तित्व वाले नेता बैठे थे इस कुर्सी की गरिमा का ध्यान रखते हुए राहुल गांधी को भी अपनी किरदार स्पष्ट करनी चाहिए

वैसे आज पाक के कब्ज़े वाले कश्मीर से हमारे पास कुछ दिलचस्प फोटोज़ आई हैं पाक अधिकृत कश्मीर के कोटली  गिलगित-बालटिस्तान की हन्ज़ा घाटी में पाक की गवर्नमेंट वहां की सेना के विरूद्ध ज़बरदस्त विरोध प्रदर्शन हुआ है वहां के लोकल निवासी इस बात को लेकर नाराज़ हैं, कि पाक उनकी ज़मीन का गैरकानूनी तरीके से प्रयोग कर रहा है
ये लोग पाक  वहां की सेना से हमेशा के लिए आज़ाद होना चाहते हैं इस विरोध प्रदर्शन में शामिल हज़ारों लोगों ने पाक से POK  गिलगित-बालटिस्तान को छोड़ने की मांग की है बोला है, कि वो अपने अधिकारों के लिए किसी भी हद तक जा सकते हैं

हमें इस बात की पूरी संभावना है, कि जिस तरह हिंदुस्तान में मौजूद पाक के भक्तों को कांग्रेस पार्टी की रैली में ‘पाकिस्तान ज़िन्दाबाद’ के नारे नहीं सुनाई दिए उसी तरह इन लोगों को POK में हो रही ‘नारेबाज़ी’ भी सुनाई नहीं देगी ये लोग उन्हीं आवाज़ों को सुनते हैं जो इनके एजेंडे के अनुकूल होती हैं   ये लोग पाक में सुपरस्टार बनना चाहते हैं  हिंदुस्तान को नीचा दिखाने की पॉलिटिक्स करते हैं
आज, ऐसे सभी लोगों के कानों तक Pok की आवाज़ पहुंचाना ज़रुरी है हिंदुस्तान में मौजूद पाक के भक्तों को ये ख़बर पसंद नहीं आएगी हालांकि उनकी पसंद  नापसंद से हमें कोई फर्क नहीं पड़ता इन लोगों को आज हकीकत की चुभन बर्दाश्त करनी होगी

loading...
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *