Friday , November 16 2018
Loading...
Breaking News

सऊदी अरब ने इस्तांबुल अपने वाणिज्य दूतावास में पत्रकार जमाल खशोगी की हत्या

सऊदी अरब ने इस्तांबुल में अपने वाणिज्य दूतावास में पत्रकार जमाल खशोगी की मर्डर के बाद सबूतों को छिपाने के खास मकसद से दो विशेषज्ञों को भेजा था तुर्की के एक ऑफिसर ने सोमवार को यह बात कही एक जमाने में सऊदी के शाह परिवार के करीबी रहे  बाद में उनके आलोचक बन गये खशोगी की दो अक्टूबर को इस्तांबुल स्थित सऊदी अरब के वाणिज्य दूतावास में मर्डर के एक महीने से कुछ दिन बाद भी तुर्की को अभी तक उनका मृत शरीर नहीं मिल सका है   दावे किये जा रहे हैं कि खशोगी की डेड बॉडी को तेजाब में घोल दिया गया था

Loading...

Image result for सऊदी अरब ने इस्तांबुल अपने वाणिज्य दूतावास में पत्रकार जमाल खशोगी की हत्या

59 वर्षीय पत्रकार की मर्डर ने पश्चिम में सऊदी अरब की छवि को बुरी तरह प्रभावित किया है  शहजादे मोहम्मद बिन सलमान बचाव की मुद्रा में आ गये हैं तुर्की के एक वरिष्ठ ऑफिसर ने नाम नहीं जाहिर होने की शर्त पर कहा, ‘‘हमारा मानना है कि तुर्की की पुलिस को परिसर की तलाशी की अनुमति देने से पहले जमाल खशोगी की मर्डर के सबूतों को छिपाने के एकमात्र मकसद से दो लोग तुर्की आये थे ’’

loading...

अधिकारी ने सबा अखबार की समाचार की पुष्टि करते हुए बोला कि पिछले महीने हुई मर्डर की जांच करने के लिए सऊदी अरब से भेजे गये दल में रसायन विशेषज्ञ अहमद अब्दुल्ला अजीज अल-जनोबी  विष विज्ञान विशेषज्ञ खालिद याहिया अल जहरानी शामिल हैं अखबार के अनुसार सऊदी अरब के दल ने 11 अक्टूबर को यहां पहुंचने के दिन से 17 अक्टूबर तक प्रतिदिन वाणिज्य दूतावास का दौरा किया

सऊदी अरब ने तुर्की की पुलिस को अंतत: मिशन में तलाशी की इजाजत 15 अक्टूबर को दी गवर्नमेंट समर्थक मीडिया में लगातार आरोपों के बाद तुर्की के मुख्य अभियोजक ने पिछले हफ्ते इस बात की पुष्टि की कि खशोगी जैसे ही वाणिज्य दूतावास में घुसे, उनकी गला दबाकर मर्डर कर दी गयी

तुर्की पुलिस की गहन तलाशी के बावजूद अभी तक खशोगी के अवशेष नहीं मिले हैं खशोगी के बेटों सला  अब्दुल्ला ने सीएनएन को बताया कि वे चाहते हैं कि सऊदी अरब उनका मृत शरीर लौटा दे ताकि उन्हें बाकी परिजनों की मौजूदगी में सुपुर्दे खाक किया जा सके दोनों ने अपने पिता को ‘साहसी, उदार  बहुत बहादुर’ बताया

33 वर्षीय अब्दुल्ला ने कहा, ‘‘मैं उम्मीद करता हूं कि उनके साथ जो कुछ भी हुआ हो, दर्दनाक नहीं रहा होगा या उनकी मृत्यु शांति से हुई होगी ’’ इससे पहले तुर्की के राष्ट्रपति रजब तैयब एर्दोआन के सलाहकार यासीन अकताय ने शुक्रवार को इशारा दिया था कि हो सकता है कि डेड बॉडी को तेजाब में घोल दिया गया हो तुर्की के उप राष्ट्रपति फुआत ओकताय ने सरकारी अनादोलू खबर एजेंसी से बोला कि इन सभी खबरों की जांच होनी चाहिए

loading...
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *