Wednesday , November 14 2018
Loading...

विपक्षी माकपा के दो सदस्यों के समर्थन से पंचायत बोर्ड का किया गठन

त्रिपुरा में बीजेपी की अगुवाई वाली गवर्नमेंट में साझीदार इंडीजीनस पीपुल्स फ्रंट ऑफ त्रिपुरा (आईपीएफटी) ने पश्चिम त्रिपुरा जिले में विपक्षी माकपा के दो सदस्यों के समर्थन से एक पंचायत बोर्ड का गठन किया है. नौ सदस्यों वाली बीनापानी पंचायत में 30 सितंबर को हुए उपचुनाव में आईपीएफटी, बीजेपी  माकपा को तीन-तीन सीटें मिली थीं.
Image result for आखिर क्यों माकपा सदस्य को जबरन आईपीएफटी का करना पड़ा समर्थन

सूत्रों ने बताया कि आईपीएफटी ने माकपा के दो सदस्यों के समर्थन से वहां पंचायत बोर्ड का गठन कर लिया. आईपीएफटी के धीरेंद्र देबबर्मा को पंचायत मुख्य चुना गया  माकपा के गोपाल सील को उप पंचायत प्रधान. माकपा के पश्चिम त्रिपुरा जिला सचिव पवित्र कर ने बताया कि माकपा के टिकट पर जीतने वाले गोपाल सील को आईपीएफटी के साथ मिलीभगत के आरोप में एक महीने पहले पार्टी से निकाल दिया गया था.

Loading...

उन्होंने बोला कि दूसरे माकपा सदस्य को जबरन आईपीएफटी का समर्थन करना पड़ा. दूसरी ओर, बीजेपी प्रवक्ता अशोक सिन्हा ने इस मामले को एक अपवाद बताते हुए बोला कि इससे बीजेपी  आईपीएफटी साझेदारी पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा.

loading...
loading...
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *