Friday , April 26 2019
Loading...
Breaking News

कराची के नवल बेस पर पाकिस्तान परमाणु पनडुब्बियां मौजूद

 भले ही चाइना हिंदुस्तान से अपने संबंध को मजबूत करने की बात कर रहा है, लेकिन ज़मीनी सच कुछ  ही है पाक की सेना  नेवी को हिंदुस्तान के विरूद्ध मजबूत करने की कोशिशों में चाइना लगातार लगा हुआ है एक रिपोर्ट के मुताबिक चाइना जहां पाक को 8 सबमरीन की खेप देने वाला है, वहीं पाक को आने वाले कुछ दिनों में जंगी जहाज से लेकर मिसाइल  कॉम्बैट ड्रोन की सप्लाई कर सकता है इतना ही नहीं बहुत ज्यादा संख्या में पाकिस्तानी नेवी के ऑफिसर चाइना के वुहान नवल बसे में मौजूद देखे गए हैं, जो चाइना नेवी से नए हथियारों की ट्रेनिंग ले रहे हैंRelated image

रिपोर्ट के मुताबिक चाइना सबसे ज्यादा पाकिस्तानी नेवी को मजबूत करने में लगा हुआ हैदरअसल, चाइना की नेवी को इंडियन समुद्री सीमा में सबसे ज्यादा चुनौती इंडियन नेवी से मिल रही है  यही वजह है की चाइना इंडियन नेवी को उसी की समुद्री सीमा में घेरने के लिए पाक नेवी को चुपचाप मदद कर रहा है

चीन  पाक के बीच नयी डील
चाइना पाक को बड़ी संख्या में एंटी सबमरीन हेलीकाप्टर दे रहा है, जिसे ASW भी बोला जाता हैइसके जरिये पानी में छुपे शत्रु राष्ट्र की सबमरीन को ख़त्म किया जा सकता है

चीन दे रहा पाक को ये हथियार
मध्यम लॉन्ग रेंज सरफेस टू एयर मिसाइल
कॉम्बैट एरियल व्हीकल
मिसाइल कोवेरती
प्रोजेक्ट हंगौर के तहत 8 सबमरीन

चीन ग्वादोर पोर्ट पर बना रहा है नए बेस 
एक रिपोर्ट के मुताबिक चाइना के नवल इंजीनियर की टीम पाक के ग्वादोर पोर्ट में कई महीनो से मौजूद है चाइना पाक के इस नवल बेस पर फोरवोर्ड ऑपरेटिंग बेस यानि FOB बना रहा है, जिससे वह जरुरत पड़ने पर भारतीय नेवी के विरूद्ध कार्रवाई कर सकता है

चाइना से मिले परमाणु रिएक्टर की मदद से पाक कराची नवल बेस पर अपने परमाणु पनडुब्बियों की तैनाती की है इतना ही नहीं अपने सबमरीन की कम्युनिकेशन नेटवर्क को मजबूत करने के लिए पाक नए VLF स्टेशन बना रहा है VLF की बदौलत पाक कई किलोमीटर दूर गहरे पानी में मौजूद अपने सबमरीन से कम्यूनिकेट कर सकता है

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *