Loading...

मजलिशपुर में युवा नेता माकपा से टकराने को तैयार

नई दिल्ली: त्रिपुरा विधानसभा चुनाव-2018 सत्तारूढ़ मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) के साथ-साथ राज्य गवर्नमेंट के मंत्रियों के लिए खासा चुनौतीपूर्ण होने जा रहा है गवर्नमेंट के साथ पार्टी के फायर बिग्रेड नेताओं की भाग्य भी चुनाव के मैदान में दांव पर लगी है इस सूची में मजलिशपुर विधानसभा एरिया से माकपा उम्मीदवार वर्तमान गवर्नमेंट में मंत्री माणिक डे शामिल हैं त्रिपुरा विधानसभा सीट संख्या-10 मजलिशपुर पश्चिम त्रिपुरा लोकसभा सीट के अंग मजलिशपुर निर्वाचन एरिया की कुल मतदाता संख्या 45, 555 हैं इस दफा चुनावों में 22,854 पुरुष मतदाता  22701 महिला मतदाता अपने मतों का इस्तेमाल कर नए विधायक का चुनाव करेंगे

Image result for मजलिशपुर में युवा नेता माकपा से टकराने को तैयार

1977 में पहली बार विधानसभा चुनाव
बात करें क्षेत्रीय पॉलिटिक्स की, तो 1972 में पूर्ण राज्य का दर्जा प्राप्त होने के बाद 1977 में यहां पहली बार विधानसभा चुनाव हुए, जिसमें माकपा के खगेन दास ने कांग्रेस पार्टी को हराकर जीत हासिल की इसके बाद 1983 में भी उन्होंने जीत दर्ज की, लेकिन 1988 में कांग्रेस पार्टी के दीपक नाग ने दास की स्थान चुनाव लड़ रहे माणिक डे को हराकर सीट माकपा से छीन ली  अगले चुनाव में भी इस सीट पर अपना दबदबा कायम रखा

माणिक डे ने साबित की बादशाहत
लेकिन 1998 में माकपा की टिकट पर चुनाव लड़ने वाले माणिक डे ने न सिर्फ जीत दर्ज की, बल्कि उसके बाद लगातार तीन चुनाव जीतकर खुद को पार्टी के फायर बिग्रेड नेताओं में शुमार कर दिया माणिक डे वर्तमान वाम मोर्चे की गवर्नमेंट में ऊर्जा, शहरी विकास, ग्रामीण विकास  परिवहन मंत्री का पदभार संभाल रहे हैं 12वीं तक पढ़े माणिक डे ने 1988 में मजलिशपुर सीट से चुनाव लड़ा था, लेकिन वह कांग्रेस पार्टी के दीपक नाग से मात्र 306 वोटों से चुनाव पराजय गए थे, लेकिन इसके बावजूद उन्होंने एरिया की जनता के लिए कार्य किया  1998 में चुनाव जीतकर इस सीट का माकपा के लाल रंग में रंग दिया

उनका एरिया की जनता पर प्रभुत्व दिखाता है कि उन्होंने 1998,2003  2008 में कांग्रेस पार्टी के उम्मीदवार दो बार के विधायक दीपक नाग को बड़े अंतर से हराया माणिक हाल ही में बीजेपी उम्मीदवार सुशांत चौधरी पर हमला कराने के आरोप का सामना कर रहे हैं

loading...

भाजपा ने सुशांत चौधरी को उतारा मैदान में
वहीं इस बार के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस पार्टी को तीसरे जगह पर धकेल कर मुख्य विपक्षी दल बनकर उभरी बीजेपी (भाजपा) ने यहां से पार्टी के युवा नेता सुशांत चौधरी को वर्तमान गवर्नमेंट में मंत्री माणिक डे के विरूद्धचुनाव मैदान में उतारा है सुशांत हाल ही में युवक कांग्रेस पार्टी अध्यक्ष पद से त्याग पत्र देकर बीजेपी के टिकट पर चुनाव लड़ रहे हैं

कांग्रेस ने राजीव गोपे को दिया टिकट
इसके अतिरिक्त मुख्य विपक्ष से हटकर तीसरे नंबर पर पहुंची कांग्रेस पार्टी ने माकपा के महान नेता के विरूद्धयुवा नेता राजीव गोपे को माकपा शासित विधानसभा एरिया में अपना उम्मीदवार बनाया है राजीव त्रिपुरा प्रदेश युवा कांग्रेस पार्टी पीआरओ के राज्य सचिव हैं  एनएसयूआई केंद्रीय चुनाव प्राधिकरण का भाग रह चुके हैं

वहीं इस सीट पर  किसी क्षेत्रीय दल और निर्दलीय उम्मीदवार ने नामांकन दाखिल नहीं किया है, जिससे यह चुनाव त्रिशंकु हो गया है एक तरफ जहां माकपा के अनुभवी नेता माणिक डे, तो वहीं दूसरी सुशांत  राजीव जैसे युवा नेता मैदान में हैं

माकपा ने 57 सीटों पर घोषित किए हैं उम्मीदवार
इस चुनाव में माकपा ने 57 सीटों पर अपने उम्मीदवार घोषित किए हैं, तो वहीं बीजेपी ने 51 सीटों पर अपने उम्मीदवार खड़े किए हैं कांग्रेस पार्टी ने सभी 60 सीटों पर अपने उम्मीदवार मैदान में उतारे हैं 60 सदस्यीय विधानसभा के लिए मतदान 18 फरवरी को होगा  तीन मार्च को मतों की गणना की जाएगी

Click Here
पढ़े और खबरें
Visit on Our Website
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *